Maharashtra ki Rajdhani kya hai | महाराष्ट्र की राजधानी क्या है? 2021

Maharashtra ki rajdhani kya hai: आज के इस लेख में महाराष्ट्र की राजधानी क्या है? मैं Maharashtra ki rajdhani के बारे में जानकारी प्रदान करने जा रहा हूं,

जिसका आप अध्ययन करेंगे और अपनी प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी में उपयोग करेंगे, मुझे आशा है कि आपको मेरा यह प्रयास पसंद आएगा। तो आइए जानते हैं

Maharashtra ki Rajdhani kya hai|महाराष्ट्र की राजधानी क्या है? 

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई है, जिसका पुराना नाम बॉम्बे था, शहर की आबादी 3 करोड़ से अधिक है, इसलिए यह देश का सबसे अधिक आबादी वाला शहर भी है, महाराष्ट्र राज्य का भौगोलिक क्षेत्र 307,713 किलोमीटर में फैला है।

भारत के राज्यों के बीच क्षेत्रफल की दृष्टि से इस राज्य की तीसरी नंबर है इस राज्य से पहले, भारत के क्षेत्र के आधार पर राजस्थान और मध्य प्रदेश सबसे बड़े राज्य हैं।

महाराष्ट्र राज्य में मनाया जाने वाला त्यौहार – Festivals Celebrated In Maharashtra State

पूरे महाराष्ट्र में कई त्योहार मनाए जाते हैं। जिसमें होली, रंग पंचमी, गुड़ी पड़वा, राम नवमी, अक्षय तृतीया, पोला (किसान पोला के दौरान अपने बैलों को सजाते हैं और खुशी से गलियों में घूमते हैं।) महाराष्ट्र दिवस, गणेश उत्सव (1893 में, राष्ट्रीय राजनेता बाल गंगाधर तिलक ने सार्वजनिक गणेशोत्सव शुरू किया गया था।

मिट्टी की बनी गणेश प्रतिमा को गणेश उत्सव के समय राज्य में बेचा जाता है।), महावीर जयंती, बुद्ध जयंती, वट पूर्णिमा, गोकुलाष्टमी, नवरोज उर्फ ​​पारसी नव वर्ष, गणेश चतुर्थी, नारियल पूर्णिमा, रमजान, दशहरा। सावित्री व्रत आदि भी मुहर्रम, बकरीद ईद सभी धर्मों के त्योहारों को बहुत धूमधाम से मनाते हैं।

महाराष्ट्र राज्य के कुछ विशेष मंदिर – Some Special Temples of Maharashtra State

एलिफेंटा गुफा मंदिर, मुंबादेवी मंदिर, कैलाश मंदिर, बालाजी मंदिर, गिरिजा माता विनायक, सिद्धिविनायक मंदिर, वरदविनायक, मुंबादेवी मंदिर, महालक्ष्मी मंदिर, कपलेश्वर मंदिर, साईं बाबा मंदिर, मुक्तिधाम मंदिर, और त्रयंबकेश्वर मंदिर प्रसिद्ध मंदिरों में से एक हैं।

हर साल मनाए जाने वाले कई धार्मिक और सामाजिक त्योहारों के कारण महाराष्ट्र को एक रंगीन राज्य भी कहा जाता है। महाराष्ट्र राज्य को संतों की भूमि कहा जाता है।

यहां भगवान को माता (मौली) कहा जाता है। साथ ही यहां की प्राकृतिक सुंदरता भी देखने लायक है। इसलिए, शायद इसे एक महान राष्ट्र का नाम दिया गया है अर्थात् महाराष्ट्र के नाम से जाना जाता है

महाराष्ट्र दिवस कब मनाया जाता है – When is Maharashtra Day Celebrated

हर साल 1 मई को महाराष्ट्र के लोग अपने राज्य में महाराष्ट्र दिवस मनाते हैं। इस दिन वर्ष 1960 में, महाराष्ट्र राज्य की स्थापना हुई और इस राज्य को भारत देश के एक राज्य के रूप में मान्यता मिली।

इस दिन अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस भी मनाया जाता है महाराष्ट्र दिवस पर लोगों की छुट्टी होती है।

इन्हें भी पढ़े : भारत के प्रधान मंत्रीयों की सूची 2021  

नोट: – Maharashtra Ki rajdhani kya hai कैसा लगा, मुझे कमेंट करके जरूर बताएं और हमारे द्वारा लिखे गए लेख में कोई कमी देखी है तो हमे कमेंट करके जरूर बताएं, हम इसे सुधारेंगे और अपडेट करेंगे अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया तो इसे फेसबुक, व्हाट्सएप और अपने दोस्तों के बीच शेयर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *